पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने अपनाया विद्रोही तेवर, निलंबन स्वीकार करने से किया इनकार

0
56

मुंबई : मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने राज्य सरकार के निलंबन आदेश के खिलाफ विद्रोही तेवर अपना लिया है। उन्होंने निलंबन आदेश को स्वीकार करने से इनकार करते हुए इसे अदालत में चुनौती देने का फैसला किया है। सिंह ने निलंबन को अवैध बताया है। इससे पहले उद्धव ठाकरे सरकार ने गुरुवार को सिंह पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ निलंबन के आदेश जारी किए थे।

सिंह की दलील है,“वरिष्ठता के अनुसार मैं पुलिस महानिदेशक के इस आदेश को स्वीकार नहीं करूंगा।” उन्होंने कहा है कि मैं स्वयं पुलिस महानिदेशक की श्रेणी का अधिकारी हूं। इसे देखते हुए, पुलिस महानिदेशक उनके निलंबन का आदेश नहीं दे सकते। सिंह का कहना है कि गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव ही इस तरह का आदेश दे सकते हैं। फ़िलहाल मनु कुमार श्रीवास्तव राज्य के गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव हैं। पर श्रीवास्तव अपनी स्वास्थ्य समस्याओं की वजह से छुट्टी पर हैं। इसलिए वह सिंह के निलंबन का आदेश नहीं दे पाएंगे।

ऐसे में अब देखना दिलचस्प होगा कि सिंह के इस वार का राज्य सरकार क्या काट निकालती है। गुरुवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अस्पताल से डिस्चार्ज होने के तुरंत बाद सिंह के निलंबन की फाइल को क्लियर कर दिया था। देवाशीष चक्रवर्ती समिति की रिपोर्ट में परमबीर पर सरकारी सेवा के नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है। सिंह, उस समय सुर्ख़ियों में आए थे, जब उन्होंने तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की वसूली की टारगेट देने का आरोप लगाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here